Sunday, October 18, 2009

ओबामा और गोवर्धन ब्राउन ने मनाई दीवाली










यूँ तो दीपपर्व हर वर्ष पूरी दुनिया में श्रद्धा, भक्ति और उल्लास के साथ मनाया जाता है पर इस बार की दीवाली कुछ और विशेष हुई जब वाइट हाउस में अमरीकी राष्ट्रपति ओबामा और 10,डाउनिंग स्ट्रीट,लन्दन में ब्रिटेन के प्रधानमंत्री गॉर्डन ब्राउन ने वैदिक मंत्रोच्चार के बीच दीप प्रज्जवलित कर यहाँ उपस्थित हिन्दू, जैन, सिख और बौध समुदाय के लोगों को हर्षविभोर कर दिया. वाइट हाउस के ऐतिहासिक ईस्ट रूम में इस तरह के आयोजन का यह पहला मौका था.अमरीका में भारतीय राजदूत मीरा शंकर और अनेक गण्यमान उपस्थिति के बीच, ओबामा ने अपने सन्देश में कहा कि विश्व की इन महान आस्थाओं द्वारा मनाया जाने वाला दीपपर्व बुराई पर अच्छाई, अन्धकार पर प्रकाश और अधर्म पर धर्म की विजय का प्रतीक है. वाइट हाउस की इस ऐतिहासिक घटना को, अमरीका द्वारा उस देश मॆं, दीवाली को सरकारी मान्यता के रूप में देखा जा रहा है.ज्ञातव्य हो कि ओबामा का हनुमान प्रेम भी काफी चर्चित है और वे हनुमान मूर्ति को अपने साथ शुभांकर के रूप में सदा रखते हैं.

उधर लन्दन की 10, डाउनिंग स्ट्रीट में प्रधानमंत्री गॉर्डन ब्राउन द्वारा वैदिक मंत्रोच्चार के बीच राम की प्रतिमा के सामने दीप प्रज्ज्वलित करने का समाचार प्राप्त हुआ है.हालाँकि सरकारी तौर पर ब्रिटिश प्रधानमंत्री का यह पहला दीवाली आयोजन था पर गार्डन ब्राउन पहले भी इस तरह के आयोजनों में भाग लेते रहे हैं. दो साल पहले गोवर्धन पूजा में प्रतिभागिता के मौक़े पर, गेंदे की माला पहने, मस्तक पर लाल टीका लगाए गॉर्डन ब्राउन को ब्रिटेन के हिन्दू फोरम ने स्नेह से "गोवर्धन ब्राउन" उपनाम दिया जिसे ब्राउन ने आह्लादित होकर स्वीकार किया. अपने सन्देश में उन्होने ब्रिटेन के विकास में भारतीयों के योगदान को सराहते हुए कहा कि डाउनिंग स्ट्रीट के इस आयोजन से भारत और ब्रिटेन के बीच रिश्तों में मज़बूती आएगी और भाईचारा विकसित होगा.

13 comments:

Udan Tashtari said...

सुना जी समाचार..

लावण्यम्` ~ अन्तर्मन्` said...

I like this New name
GOVARDHAN BROWN :-)

&

Glad they celebrated Diwali

Thanx 4 the Pic.s Meenu ji

शरद कोकास said...

ओह तो भारत को फुसलाने का यह भी एक तरीका है ..ऐसे ही हमारे नेता अपने मतदाताओ को भरमाते हैं ।

Mishra Pankaj said...

मीनू जी पहले तो धन्यवाद ओबामा जी का ये दुर्लभ चित्र दिखाने के लिए , हाथ जोड़े हुए :)
दूसरी बात शरद कोकास जी के बात से सहमत ऐसे ही हमारी सरकार बहलाती है हम सबको

श्रीश पाठक 'प्रखर' said...

फिर भी इसका एक तरह का महत्व तो है ही..दुनिया भर में तो लाखों त्यौहार होंगे...

Meenu Khare said...

कितनी अजीब सी बात है शरद जी कि दुनिया भर में नेता बहलाने/फुसलाने का काम करते हैं और हम लगातार बड़ी आसानी से बेवकूफ बनते रहते हैं. हम सब पढे लिखे क़ाबिल लोग, क्यों बेवकूफ बनते है, यह जानते हुए भी कि अगला हमें मूर्ख बना रहा है? यदि सब जान कर भी हम बेकूफ बन जाते है तो ग़ल्ती हमारी ही हुई ना ?


हर तस्वीर के दो रूख माने गए है. मैं तो इन राष्ट्राध्यक्षों की दीप पर्व में सहभागिता को हमारी गौरवशाली संस्कृति के सम्मान के रूप में देखती हूँ. और इनके प्रति सम्मान व्यक्त करती हूँ.

Nirmla Kapila said...

मैं भी शरद ज्ee ी सहमत हूँ आभार्

drsbharti said...

टीवी में भी इसकी कवरेज देखी थी. ब्लॉग पर इस आलेख के लिए धन्यवाद. गोवर्धन और ओबामा जी को हमारी ओर से भी हैप्पी दीवाली.

shivani's World said...

दीपावली पर्व पर यह दुर्लभ तस्वीरें देख कर मज़ा आ गया. हाथ जोड़े ओबामा जी और माला पहने गॉर्डन ब्राउन अच्छे लगे. धन्यवाद.

दिगम्बर नासवा said...

हम भारत वासियों को एक बार फिर से बहलाने का प्रयास ......... पर चलो शुक्र है स्वीकार तो कर रहे हैं हमको ............ जरूरी नहीं है की इस बार आसानी से बुद्धू बना सहे

सुशीला पुरी said...

अरे भैया ! आप लोग तो असल बात से ही दूर चले गए ........यहाँ यह महत्त्व का विषय नही की वे हमें बेवकूफ बना रहे हैं ,महत्वपूर्ण ये है की उन्होंने हमारी परंपरा में अपना विश्वास व्यक्त किया है .......और फिर दीप तो यही कहते हैं की हम जलेंगे तो
उजाला ही करेंगे .

अर्शिया said...

बहुत सुंदर एवं उत्साहवर्द्धक समाचार।
( Treasurer-S. T. )

पंकज said...

जितने भारतीय इन देशों में रहते हैं उस हिसाब से ये आयोजन बस टोकिनिज्म ही है.

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails